Wednesday, June 03, 2020
Follow us on
 
 
 
Haryana

शिक्षा मंत्री के दरबार में पहुंचे टीजीटी इंग्लिश अध्यापक

D.BHARDWAJ | May 22, 2020 11:02 AM


चंडीगढ़। हरियाणा में टीजीटी इंग्लिश अध्यापकों का एक प्रतिनिधिमंडल भर्ती को रद्द न किए जाने की मांग को लेकर शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुज्जर से मिला। गुज्जर ने प्रतिनिधिमंडल के साथ हुई बैठक में सकारात्मक कार्रवाई का आश्वासन दिया है।
टीजीटी इंग्लिश अध्यापक नेता रमेश दूहन की अध्यक्षता में सुरजीत, अजय सिंगल, दिनेश दहिया, विवेक, सुल्तान सिंह, ईश्वर छोक्कर, प्रिंस अग्रवाल, हिना अग्रवाल, पम्मी नगला समेत कई प्रतिनिधियों ने शिक्षा मंत्री के साथ हुई बैठक में कहा कि यह भर्ती 2015 में विज्ञापित हुई थी। 20 दिसंबर 2015 को टीजीटी इंग्लिश मेवात काडर की लिखित परीक्षा आयोजित हुई। उसके बाद 7 फरवरी 2016 को शेष हरियाणा कॉडर के लिए लिखित परीक्षा आयोजित हुई। सितंबर 2016 में परीक्षा का परिणाम जारी होने के बाद 13 सितंबर को इंटरव्यू आयोजित किया गया।


अंतिम परिणाम घोषित होने से पहले ही भर्ती कोर्ट में फंस गई। हाईकोर्ट की सिंगल बेंच ने भर्ती में शामिल सफल उम्मीदवारों व सरकार के पक्ष में फैसला दिया। उसके बाद भर्ती डबल बेंच में चेलेंज की गई, जहां पर सरकार की नाकामी के कारण मामला आज तक लंबित है। जब-जब सुनवाई हुई तब-तब सरकार की ओर से कोई जवाब दाखिल नहीं किया गया। इस तरह से इस मौके पर आकर हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग द्वारा भर्ती को निरस्त करने के पहलूओं पर कानूनी राय मांगना उम्मीदवारों के भविष्य के साथ कुठाराघात है। बैठक के दौरान शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुज्जर ने इस मामले में अनभिज्ञता जाहिर करते हुए पल्ला झाड़ लिया। उम्मीदवारों की सरकार से यह मांग है कि कोर्ट में विचाराधीन मामले के चलते भर्ती रद्द न की जाए व कोर्ट में मजबूत पैरवी करवा कर भर्ती को जल्द पूरा करवाया जाए।

 
Have something to say? Post your comment
More Haryana News
फेल साबित हुए गेहूं खरीद के सरकारी दावे, किसान खा रहे हैं धक्के-अभय चौटाला हरियाणा में उद्योग शुरू, पलायन से रूके 65 हजार श्रमिक
लाकॅडाउन में हरियाणा पुलिस ने नशे कारोबारियों पर कसा शिंकजा
हरियाणा के किसान सीख रहे मार्केटिंग व बिजनेस मैनेजमेंट
सरसों खरीद घोटाले में महेंद्रगढ़ जिला के सभी मार्केट कमेटी सचिव निलंबित
हरियाणा सरकार ने बदला अध्यापक-छात्र अनुपात,विरोध में उतरे शिक्षक
रोहतक के गांव में था भूकंप का केंद्र, ग्रामीणों को पता ही नहीं लगा
हरियाणा वासियों को मोदी के दूसरे कार्यकाल की उपलब्धियां बताएगी टीम मनोहर
हरियाणा के 36 पहलवान खेलो इंडिया सूची से बाहर
निजी स्कूलों की मनमानी पर अंकुश लगाये सरकार: योगेश्वर शर्मा