International

भारत के लिए खतरे की घंटी! अब नेपाल में रेल लाइन बिछाएगा चीन

November 20, 2017 12:42 PM

काठमांडू,19 नवंबर ( न्यूज़ अपडेट इंडिया ) : नेपाल में चीन के राजदूत ने कहा है कि सीमा पार रेलवे लाइन बिछाने को लेकर काठमांडू के अनुरोध को चीन ने गंभीरता से लिया है और इसकी व्यावहारिकता को लेकर अध्ययन शुरू कर दिया गया है। काठमांडू पोस्ट की खबर के मुताबिक मीडिया से बातचीत में शुक्रवार को चीनी राजदूत यू हांग ने यह भी कहा कि बीजिंग एक नए प्रकार के अंतर्राष्ट्रीय संबंधों को प्रोत्साहन देने और मानव के लिए एक साझा भविष्य के समुदाय का निर्माण करने की दिशा में काम कर रहा है। चीन की बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव यानी बीआरआई में शामिल होने के नेपाल के कदम पर राजदूत यू ने खुशी जाहिर की और कहा कि इस परियोजना से इसमें शामिल नेपाल व अन्य देशों के लिए अर्थव्यवस्था व लोगों से संपर्क बनाए रखने का व्यापक मौका मिलता है। नेपाल ने मई में चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की प्रमुख परियोजना बीआरआई में शामिल होने के लिए हस्ताक्षर किए थे। 

उन्होंने बताया कि नेपाल और चीन सीमा पार रेलवे संपर्क, राजमार्ग और एक शुष्क बंदरगाह यानी ड्राई पोर्ट (रेल व सड़क मार्ग के जरिये समुद्र से जुड़ा स्थान) के निर्माण जैसे कई मोर्चो पर एक साथ काम कर रहे हैं। नेपाल और चीन के संबंधों को महत्व देते हुए यू ने कहा कि 2009 में दोनों देशों ने स्थायी तौर पर मित्रता कायम रखते हुए सहयोग की व्यापक साझेदारी को आगे बढ़ाया। उन्होंने कहा कि चीन मित्रता, निष्ठा, परस्पर लाभ व समावेशिकता और मित्रता व साझेदारी को आगे बढ़ाने के सिद्धांतों के साथ अपने मित्रों के साथ संबंधों को गहराई प्रदान करना चाहता है। 

 
Have something to say? Post your comment