Thursday, January 18, 2018
Follow us on
 
 
 
National

ममता बनर्जी का बड़ा सियासी दांव, बंगाल में 'घर-घर' बांटेंगी गाय  

November 16, 2017 11:51 AM

नई दिल्ली,16 नवंबर ( न्यूज़ अपडेट इंडिया ) : गाय पर एक बार फिर सियासी शोर शुरू हो गया है और इस बार इसके केंद्र में ममता सरकार है। पश्चिम बंगाल सरकार ग्रामीण इलाकों में गाय बांटने की तैयारी कर रही है। बंगाल में अगले साल होने वाले पंचायत चुनाव से पहले ये ममता का बड़ा सियासी दांव माना जा रहा है। ममता बनर्जी किसानों को मुफ्त में गाय देंगी। पश्चिम बंगाल सरकार ने एलान किया है कि गांव में रहने वाले गरीब किसानों की इनकम बढ़ाने के लिए सरकार सभी परिवारों को गाय देगी।

पश्चिम बंगाल के पशुपालन मंत्री स्वप्न देबनाथ ने कहा है कि हम दूध का उत्पादन बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। दूध का उत्पादन बढ़ाने के लिए और गरीबों की आमदनी बढ़ाने के लिए अब हमने गाय बांटने का फैसला किया है।

पश्चिम बंगाल में 2018 में होनेवाले पंचायत चुनाव से पहले ममता सरकार गाय बांटेगी। ग्रामीण इलाकों में हर परिवार को एक गाय देने की योजना है। पहले चरण में दो हजार गायें बांटी जाएंगी। बीरभूम के बाद पूरे बंगाल में गाय बांटी जाएंगी।

ममता सरकार के इस हिंदूवादी कार्ड पर भाजपा ने बड़ा हमला किया। केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने ममता के गौदान पर सवाल खड़ा कर दिया है। उन्होने कहा कि मुफ्त में दी जाने वाली गाएं कहां जाएंगी, किसानों के पास या कसाइयों के पास?

ममता सरकार की निगाहें अगले साल होने वाले पंचायत चुनाव पर हैं। ममता बनर्जी जानती हैं कि गाय की सियासत उन्हें पंचायत चुनाव में सफलता दिला सकती है यही वजह है कि ममता सरकार के गौप्रेम पर भाजपा हमलावर हो गई है।


 
Have something to say? Post your comment
 
More National News
राहुल कल निर्विरोध चुने जाएंगे कांग्रेस अध्यक्ष, 16 को होगा अहम एलान
इलाहाबाद हाई कोर्ट में डेढ़ साल से जमानत की अपील लंबित रहने पर सुप्रीम कोर्ट हुआ नाराज
अमित शाह ने देशद्रोहियों की मदद लेने पर कांग्रेस को कोसा
भाजपा के लेन-देन पर कांग्रेस ने उठाए सवाल
त्रिपुरा विधानसभा में छह टीएमसी विधायकों को भाजपा सदस्यों के रूप में मान्यता
केंद्र ने राज्यों को लिखा पत्र, निजी अस्पतालों की मनमानी पर लगाएं लगाम 
इलाहाबाद के खुल्दाबाद और धूमनगंज थाने में अब आईजी और एसएसपी करेंगे कैंप
आयुर्वेद में भारत के मंसूबों पर पानी फेर सकता है जड़ी-बूटियों की किल्लत
यरुशलम पर तीसरे देश के फैसले से हमारे विचार प्रभावित नहीं: भारत
'नीच' बयान पर नपे अय्यर, कांग्रेस ने किया पार्टी से निलंबित