Business

जीएसटी के सौ दिन, रोजमर्रा के उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों ने कहा - सुधर रही है मांग

October 08, 2017 11:01 PM

नई दिल्ली, 08 अक्तूबर ( न्यूज़ अपडेट इंडिया )  वस्‍तु एवं सेवा कर (जीएसटी) प्रणाली लागू हुए रविवार को सौ दिन हो गये।  इस बीच डाबर और गोदरेज कंज्यूमर जैसी रोजमर्रा के उपयोग का सामान बनाने वाली (एफएमसीजी) प्रमुख कंपनियों ने मांग बढ़ने की बात कही है।   कंपनियों ने इसका हवाला देते हुए उम्मीद व्यक्त की है कि जीएसटी के कारण पड़े प्रतिकूल असर में तीसरी तिमाही के अंत तक पूरी तरह सुधार आ जाएगा।   जीएसटी के क्रियान्वयन के कारण आपूर्ति श्रृंखला के सहयोगियों के भंडार खाली करने से अधिकतर एफएमसीजी कंपनियां प्रभावित हुई थीं। 

डाबर इंडिया और गोदरेज कंज्यूमर प्रॉडक्ट्स लिमिटेड ने कहा कि उन्होंने बदलाव के मुताबिक खुद को ढाल लिया है और स्थिर बाजार धारणा के कारण इस तिमाही तक स्थिति पूरी तरह सुधर जाने के प्रति आशान्वित हैं।   डाबर इंडिया के मुख्य वित्तीय अधिकारी ललित मलिक ने बताया, ‘जीएसटी लागू होने के बाद स्थिरता लौटने और सुधार के संकेत देती बाजार धारणा के कारण हमें उम्मीद है कि ग्रामीण तथा शहरी दोनों बाजारों में मांग का परिदृश्य भी बेहतर होगा। गोदरेज कंज्यूमर्स के कारोबार प्रमुख (भारत एवं सार्क) सुनील कटारिया ने इसी तरह की संभावना जाहिर करते हुए कहा, ‘जून में बड़े स्तर पर खाली किये गये भंडार फिर से भरे जाने लगे हैं। इससे हमें स्पष्ट सुधार दिख रहा है.’ उन्होंने आगे कहा कि थोक बाजार को बदलाव के अनुकूल होने में अपेक्षाकृत अधिक समय लगा. खुदरा बाजार में तेजी से सुधार हुआ और जुलाई-अगस्त के दौरान यह काफी सामान्य रहा. सुधार के बाबत पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘तीसरी तिमाही के अंत तक हमें थोक बाजार में पूर्ण सुधार दिखेगा. हम आने वाली तिमाहियों में बेहतर प्रदर्शन के लिए आशान्वित हैं।

 
Have something to say? Post your comment
 
More Business News
पेनाल्टी से लीगल एक्शन तक: लोन न चुकाना पड़ेगा कितना भारी, जानिए
ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार होने पर आपको मिलेगा कितना रिफंड, जानिए
जानिए रिस्क फ्री निवेश के बारे में, नहीं होता पैसा डूबने का कोई खतरा
क्रिटिकल इलनेस कवर कितना जरूरी, जानिए कैसे करें इसका चुनाव
ईएमआइ के बोझ से बचाएगा रिवर्स ईएमआइ फंड का तरीका
हेल्थ पॉलिसी खरीदने से पहले इन बातों का रखें ध्यान, होगा फायदा
मुनाफाखोरी रोधी प्राधिकरण के गठन को कैबिनेट की मंजूरी
आपके बच्चों को कभी नहीं सताएगी पैसों की चिंता, ऐसे करें प्लानिंग
फ्री कॉल और डाटा के बाद अब जियो देगा सस्‍ता किराना, अंबानी ने शुरू की फि‍र हलचल मचाने की तैयारी
वीवो ने खोला ऑफर्स का पिटारा, लेटेस्‍ट फोन पर मिल रही है हजारों की छूट