Tuesday, October 24, 2017
Follow us on
BREAKING NEWS
मोदी ने कहा कठोर क़दम के बाद अर्थव्यवस्था पटरी पर लौटी जम्मू-कश्मीर: कुपवाड़ा में सुरक्षाबलों की आतंकियों से मुठभेड़, एक आतंकी ढेर आज गुजरात दौरे पर राहुल गांधी, कांग्रेस ने दिया हार्दिक पटेल और जिग्नेश मेवानी को खुला न्योता हिमाचल चुनाव: कांग्रेस की अंतिम सूची में वीरभद्र के पुत्र का नाम शामिल खुलेगा पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति केनेडी की हत्या का राज? फाइलें सार्वजनिक करेंगे ट्रंप भारतीय वायुसेना को यह ‘हथियार’ देने पर विचार कर रहा है अमेरिका चीन ने दुनियाभर के नेताओं को दी चेतावनी, दलाई लामा से मुलाकात की तो इसे एक गंभीर अपराध समझा जाएगा इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन में कैमरा लगाने के लिए ऐस्ट्रोनॉट्स ने किया स्पेसवॉक
 
 
 
Business

जीएसटी के सौ दिन, रोजमर्रा के उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों ने कहा - सुधर रही है मांग

October 08, 2017 11:01 PM

नई दिल्ली, 08 अक्तूबर ( न्यूज़ अपडेट इंडिया )  वस्‍तु एवं सेवा कर (जीएसटी) प्रणाली लागू हुए रविवार को सौ दिन हो गये।  इस बीच डाबर और गोदरेज कंज्यूमर जैसी रोजमर्रा के उपयोग का सामान बनाने वाली (एफएमसीजी) प्रमुख कंपनियों ने मांग बढ़ने की बात कही है।   कंपनियों ने इसका हवाला देते हुए उम्मीद व्यक्त की है कि जीएसटी के कारण पड़े प्रतिकूल असर में तीसरी तिमाही के अंत तक पूरी तरह सुधार आ जाएगा।   जीएसटी के क्रियान्वयन के कारण आपूर्ति श्रृंखला के सहयोगियों के भंडार खाली करने से अधिकतर एफएमसीजी कंपनियां प्रभावित हुई थीं। 

डाबर इंडिया और गोदरेज कंज्यूमर प्रॉडक्ट्स लिमिटेड ने कहा कि उन्होंने बदलाव के मुताबिक खुद को ढाल लिया है और स्थिर बाजार धारणा के कारण इस तिमाही तक स्थिति पूरी तरह सुधर जाने के प्रति आशान्वित हैं।   डाबर इंडिया के मुख्य वित्तीय अधिकारी ललित मलिक ने बताया, ‘जीएसटी लागू होने के बाद स्थिरता लौटने और सुधार के संकेत देती बाजार धारणा के कारण हमें उम्मीद है कि ग्रामीण तथा शहरी दोनों बाजारों में मांग का परिदृश्य भी बेहतर होगा। गोदरेज कंज्यूमर्स के कारोबार प्रमुख (भारत एवं सार्क) सुनील कटारिया ने इसी तरह की संभावना जाहिर करते हुए कहा, ‘जून में बड़े स्तर पर खाली किये गये भंडार फिर से भरे जाने लगे हैं। इससे हमें स्पष्ट सुधार दिख रहा है.’ उन्होंने आगे कहा कि थोक बाजार को बदलाव के अनुकूल होने में अपेक्षाकृत अधिक समय लगा. खुदरा बाजार में तेजी से सुधार हुआ और जुलाई-अगस्त के दौरान यह काफी सामान्य रहा. सुधार के बाबत पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘तीसरी तिमाही के अंत तक हमें थोक बाजार में पूर्ण सुधार दिखेगा. हम आने वाली तिमाहियों में बेहतर प्रदर्शन के लिए आशान्वित हैं।

 
Have something to say? Post your comment
 
More Business News
नोटबंदी-जीएसटी से इस बार सुस्त रहा दीपावली पर कारोबार, कैट ने कहा 40 प्रतिशत की आई गिरावट
दिवाली बोनस में हर साल कार और फ्लैट देने वाले इस डायमंड कारोबारी ने इस बार दिया कुछ ऐसा, सब रह गए हैरान
बचत को बढ़ावा देने के लिए मोदी सरकार ने उठाया कदम, बैकों को दी लघु बचत योजनाओं का दायरा बढ़ाने की अनुमति
RBI ने कभी नहीं दिया बैंक एकाउंट को आधार से लिंक करने का आदेश, RTI में हुआ खुलासा
धनतेरस पर सस्ता हुआ सोना-चांदी, जानिए आपके शहर में क्या है कीमत और खरीदने का मुहूर्त
जीएसटी और नोटबंदी को लेकर यशवंत सिन्हा ने फिर साधा निशाना, कहा- राजशक्ति पर अंकुश के लिए लोकशक्ति
नई ऊंचाई पर सेंसेक्स, निफ्टी भी 10 हजार के पार
मजबूती की राह पर भारतीय अर्थव्यवस्था- आइएमएफ
60 रुपये का स्‍टाइपेंड पाने वाले ने खड़ा कर डाला 10,000 करोड़ का कारोबार
भारतीय रिजर्व बैंक की नीतियां वृद्धि के अनुकूल नहीं : फिक्की प्रमुख