Haryana

गुरुग्राम: पहली कोरोना संक्रमित स्टाफ नर्स पूनम ने लगवाई वैक्सीन

Sanjay Mehra | February 04, 2021 02:56 PM

पहली कोरोना संक्रमित स्टाफ नर्स पूनम ने लगवाई वैक्सीन

-गुरुग्राम के सेक्टर-10 नागरिक अस्पताल में लगाई गई वैक्सीन

 Sanjay Mehra

गुरुग्राम। जब कोरोना महामारी चरम पर थी। कोरोना की दस्तक के साथ ही केस बढ़ रहे थे। ऐसे समय में आइसोलेशन में पूरी शिद्दत के साथ ड्यूटी करके अपना फर्ज निभा रही स्टाफ नर्स पूनम सहराय भी कोरोना की चपेट में आ गई। गुरुवार को दूसरे चरण की कोरोना वैक्सीन की शुरुआत के साथ ही उन्होंने भी वैक्सीन लगवाकर संदेश दिया कि वैक्सीन से डरने, घबराने की जरूरत नहीं।


पूनम सहराय नागरिक अस्पताल की पहली स्टाफ नर्स थीं, जो कि कोरोना संक्रमित हुई थी। ईएसआईसी में 15 दिन तक आइसोलेशन में रहने के बाद वे एक सप्ताह तक होम आइसोलेशन में रहीं थी। इसके बाद जब उन्होंने ड्यूटी ज्वाइन की तो अस्पताल में सहकर्मियों व अन्य स्टाफ ने उनका भव्य स्वागत भी किया। कोरोना को मात देकर ड्यूटी पर लौटी पूनम सहराय अन्य स्टाफ के लिए एक तरह से रोल मॉडल बनकर सामने आई। जब भी कोई स्टाफ मेंबर कोरोना संक्रमित हुआ तो उन्हें मानसिक तौर पर मजबूत बनाने का काम पूनम सहराय ने किया। उनकी काउंसलिंग करती रही। कोरोना के कारण उस समय मौतें भी बढ़ती जा रही थी।

 

ऐसे समय में किसी भी कोरोना संक्रमित के लिए मानसिक तौर पर मजबूत रहना बहुत जरूरी था। लोग कोरोना के खौफ से आत्महत्या करने जैसा कदम भी उठा रहे थे। बहुत से मामले उस समय ऐसे सामने आए, जिसमें परिवार में किसी के पॉजिटिव होने या फिर कोरोना की जांच कराने के बाद तनाव में लोगों ने खुदकुशी की। खुदकुशी करने वालों में पढ़े-लिखे लोगों की संख्या अधिक रही। ऐसे समय में स्टाफ नर्स पूनम सहराय ने अस्पताल में आइसोलेशन के दौरान हम होंगे कामयाब गीत गाकर आत्मविश्वास जगाया। उनके साथ अन्य अस्पतालों की स्टाफ नर्स भी भर्ती थी। सभी के लिए वे प्रेरणा स्रोत बनीं। उनके द्वारा गाया गया यह गीत मीडिया, सोशल मीडिया में भी काफी वायरल हुआ था।

 

ऐसे चैलेंज का मुकाबला कर आगे बढ़ें: पूनम
स्टाफ नर्स पूनम सहराय ने कोरोना की वैक्सीन लगवाने के बाद विक्ट्री चिन्ह बनाते हुए कहा कि उनके प्रोफेशन में इस तरह के चैलेंज आते रहते हैं। इसलिए इनसे घबराने की बजाय मुकाबला करें। हमारी यह जिम्मेदारी होती है कि हम अपने कार्यक्षेत्र में खुद भी मानसिक रूप से मजबूत रहें और मरीजों को भी मजबूत रखें। जब हम खुद मरीज होते हैं तो यह मजबूती और अधिक होनी चाहिए। जीवन में उतार-चढ़ाव भी आते हैं, लेकिन किसी भी स्थिति में धैर्य नहीं खोना चाहिए।

 

विधायक सुधीर सिंगला ने सम्मानित भी किया
कोरोना वॉरियर पूनम सहराय को कोरोना महामारी काल में कई संस्थाओं की ओर से सम्मानित भी किया गया। गुरुग्राम के विधायक सुधीर सिंगला ने भी पूनम सहराय के हौंसलों की तारीफ की और उन्हें सिविल लाइन स्थित अपने कार्यालय में एक समारोह में सम्मानित भी किया। विधायक ने कहा कि हेल्थ वर्कर्स कोरोना महामारी के दौरान में प्रथम पंक्ति के वॉरियर हैं। उनके काम को उनका सेल्यूट है।

 
Have something to say? Post your comment