Tuesday, October 24, 2017
Follow us on
BREAKING NEWS
मोदी ने कहा कठोर क़दम के बाद अर्थव्यवस्था पटरी पर लौटी जम्मू-कश्मीर: कुपवाड़ा में सुरक्षाबलों की आतंकियों से मुठभेड़, एक आतंकी ढेर आज गुजरात दौरे पर राहुल गांधी, कांग्रेस ने दिया हार्दिक पटेल और जिग्नेश मेवानी को खुला न्योता हिमाचल चुनाव: कांग्रेस की अंतिम सूची में वीरभद्र के पुत्र का नाम शामिल खुलेगा पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति केनेडी की हत्या का राज? फाइलें सार्वजनिक करेंगे ट्रंप भारतीय वायुसेना को यह ‘हथियार’ देने पर विचार कर रहा है अमेरिका चीन ने दुनियाभर के नेताओं को दी चेतावनी, दलाई लामा से मुलाकात की तो इसे एक गंभीर अपराध समझा जाएगा इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन में कैमरा लगाने के लिए ऐस्ट्रोनॉट्स ने किया स्पेसवॉक
 
 
 
National

देश से वामपंथियों को उखाड़ फेकने की तयारी में बिहार बीजेपी

October 13, 2017 12:56 AM

पटना,12 अक्तूबर ( न्यूज़ अपडेट इंडिया ) : केरल में हिंदुओं पर लगातार हो रहे अत्याचार एवं आरएसएस के कार्यकर्ताओं की हत्या के बाद बिहार बीजेपी कमर कस चुकी है. प्रतिदिन बिहार से बड़े नेता और कार्यकर्ता वहां जनयात्रा में शामिल होने केरल जा रहे हैं. पटना से बीजेपी युवा मोर्चा के 150 कार्यकर्ताओं ने केरल में 20 हजार लोगों के साथ जनयात्रा निकाली जिसको केरल के लोगों का भी काफी सहयोग मिला. इनमें से प्रमुख नितिन नवीन, संजीव चौरसिया एवं जयप्रकाश चौधरी हैं. अब इनका कहना है कि देश से वामपंथियों को उखाड़ फेकना इनका मकसद है. वामपंथियों की हिंसा के खिलाफ आयोजित पदयात्रा में शामिल होने के लिए बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी कोच्ची पहुंचे. वह गुरुवार को भाजपा की ओर से आयोजित 9 किलोमीटर लंबी पदयात्रा व उसके बाद हुई जनसभा में शामिल दिखे. केरल में वामपंथियों ने कथित रूप से अब तक 100 से ज्यादा भाजपा व सहयोगी संगठनों (आरएसएस) के निर्दोष कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी है.बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि हिंसा की बुनियाद पर खड़े वामपंथियों का पूरी दुनिया से सफाया हो चुका है. भारत में भी वो केवल दो राज्य केरल और त्रिपुरा में सिमट गए हैं. अगले चुनाव में केरल से भी इनका सफाया तय है. आरएसएस और बीजेपी के कार्यकर्ता ईंट का जवाब पत्‍थर से देना जानते हैं मगर हमारा विश्वास लोकतंत्र में है और हमलोग अगले चुनाव में इसका जवाब देंगे. केरल में पिछले कुछ सालों में संघ और वामपंथियों के वर्चस्व की लड़ाई में दर्जनों सियासी हत्याएं हो चुकी हैं. संघ परिवार लगातार इन हत्यायों को लेकर मुखर है और सीधे सीधे वामपंथियों को इसका कसूरवार ठहराता रहा है.

 
Have something to say? Post your comment
 
More National News
मोदी ने कहा कठोर क़दम के बाद अर्थव्यवस्था पटरी पर लौटी
जम्मू-कश्मीर: कुपवाड़ा में सुरक्षाबलों की आतंकियों से मुठभेड़, एक आतंकी ढेर
आज गुजरात दौरे पर राहुल गांधी, कांग्रेस ने दिया हार्दिक पटेल और जिग्नेश मेवानी को खुला न्योता
हिमाचल चुनाव: कांग्रेस की अंतिम सूची में वीरभद्र के पुत्र का नाम शामिल
एक महीने के अंदर तीसरी बार गुजरात दौरे पर मोदी
गुजरात: विधानसभा चुनावों से पहले BJP ने हार्दिक पटेल को यूं दिया दोहरा झटका
बिहार बोर्ड ने पास लड़की को किया फेल, कॉपी जांच में टॉप-10 में आया नाम
डोकलाम जैसी स्थिति से निपटने के लिए सेना को तैयार रहना होगा: आर्मी चीफ
बोफोर्स मामले में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करेगी CBI, सरकार से मांगी इजाजत
कल गुजरात का दौरा करेंगे प्रधानमंत्री मोदी, कई परियोजनाओं का करेंगे उद्घाटन