Haryana

हरियाणा में चार सौ ट्रैवल एजेंटों के खिलाफ मामले दर्ज

July 06, 2020 03:06 PM

चंडीगढ़। पंजाब की तरह हरियाणा में भी फर्जी ट्रैवल एजेंटों व कबूतरबाजों का जाल फैला हुआ है। लॉकडाउन के दौरान विदेश से लौटे हरियाणा वासियों द्वारा खुलासा किए जाने के बाद जांच कर रही एसआईटी के हाथ कई अहम सुराग लगे हैं। एसआईटी के पास 400 से अधिक केस आ चुके हैं। अब तक ढाई दर्जन कबूतरबाजों को गिरफ्तार किया जा चुका है।
हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने रविवार को ट्रैवल एजेंटों की जांच कर रही एसआईटी चीफ एवं करनाल रेंज की आईजी भारती अरोड़ा से बातचीत करके अब तक हुई जांच का रिव्यू किया। विज ने एसआईटी को जांच में तेजी लाने और फर्जी ट्रैवल एजेंटों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश जारी किए हैं।
हरियाणा में लॉकडाउन के दौरान अमेरिका द्वारा डिपोर्ट किए गए करीब सौ लोग हरियाणा वापस लौटे तो पता चला कि वह कबूतरबाजों के जाल में फंसकर विदेश गए थे। फर्जी ट्रैवल एजेंटों ने उनके पास से पैसे भी वसूल लिए और सही रास्ते से अमेरिका भी नहीं पहुंचाया। जिसके चलते गृहमंत्री अनिल विज ने करनाल रेंज की आईजी भारती अरोड़ा के नेतृत्व में एक एसआईटी का गठन करके जांच के आदेश दिए थे।

गृहमंत्री अनिल विज ने एसआईटी जांच का किया रिव्यू
अब तक 30 ट्रैवल एजेंट काबू, 35 लाख की नगदी बरामद


इस एसआईटी में छह एसपी स्तर के अधिकारी शामिल हैं। इसके अलावा डीएसपी व इंस्पेक्टर स्तर के कई अधिकारी इसका हिस्सा हैं। अनिल विज ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि एसआईटी द्वारा गैर कानूनी तरीके से विदेशों में भेजने वाले और कबूतरबाजी में विभिन्न जिलों में करीब दो दर्जन से अधिक मामलों में करीब अढ़ाई दर्जन आरोपी एजेंटो को गिरफ्तार किया है और उनके कब्जे से 35 लाख रुपए से अधिक की राशि बरामद की है। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा गठित एसआईटी गत वर्षो में दर्ज मामलों की भी जांच कर रही है। इसके तहत वर्ष 2018-19 में कुछ एजेंटों द्वारा हरियाणा के नौजवानों को अवैध रूप से संयुक्त राज्य अमेरिका भेजा गया, जहाँ उन्हें पुलिस ने पकड़ लिया और जेल में डाल दिया।
इसके काफी समय तक जेल मेें रहने के बाद अमेरिका सरकार ने उन्हें वापिस भारत डिपोर्ट कर दिया गया। इनकी शिकायतों पर संज्ञान लेते हुए हरियाणा सरकार के आदेश पर पुलिस द्वारा ऐसे एजेंटों के खिलाफ कबूतरबाजी के 254 अभियोग दर्ज किये। इसके अलावा कबूतरबाजी के 156 नए मामले दर्ज किये है, इन सभी मामलों की जांच यही एसआईटी कर रही है।
बाक्स---
विज का हालचाल जानने पहुंचे पूर्व केंद्रीय मंत्री
पंजाब में लंबे समय से फर्जी ट्रैवल एजेंटों के विरूद्ध लड़ाई लड़ रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री बलवंत सिंह रामूवालिया तथा उनके दामाद एवं मशहूर फिल्म अभिनेता हरभजन मान रविवार को हरियाणा के गृहमंत्री का हालचाल जानने के लिए अंबाला स्थित उनके आवास पर पहुंचे। रामूवालिया एक संगठन के माध्यम से अब तक हजारों लोगों को फर्जी ट्रैवल एजेंटों से मुक्त करवा चुके हैं। रामूवालिया ने विज द्वारा हरियाणा में करवाई जा रही जांच की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस नेटवर्क को तोडक़र हरियाणा व पंजाब के युवाओं को पथभ्रष्ट होने से बचाना जरूरी है।

 
Have something to say? Post your comment
More Haryana News
हरियाणा में एक फरवरी से खुलेंगे स्कूल
हरियाणा पुलिस ने चार गुमशुदा बच्चों को परिवार से मिलाया
हरियाणा सरकार ने जारी की अधिसूचना
ग्राम सचिव पेपर लीक होने पर एनएसयूआई ने एचएसएससी कार्यालय घेरा
हरियाणा में दो साल में साढे चार सौ करोड़ का जीएसटी घोटाला
हरियाणा में 77 स्थानों पर शुरू हुआ कोरोना वैक्सीन टीकाकरण
पूर्व आबकारी अधिकारी (इंस्पेक्टर) रामबीर सिंह बागोरिया का निधन
राज्य में परिवर्तनशील रहेगा मौसम, बरसात ने किया फायदा ही फायदा
गुरनाम सिंह चढूनी ने युवाओं को उकसाया तो हुआ कैमला में हंगामा, मनोहर लाल
करनाल: सीएम के हैलीपेड पर किसानों का कब्जा, रैली स्थल को किया तहस-नहस