Monday, December 11, 2017
Follow us on
 
 
 
Chandigarh

सुखदीप अौर राकेश का खुलासा, हनीप्रीत जानती है आदित्य अौर पवन के 5 ठिकानों का पता

October 11, 2017 01:03 AM

पंचकूला,10 अक्तूबर ( न्यूज़ अपडेट इंडिया )  हनीप्रीत का रिमांड आज को खत्म हो रहा है, लिहाजा आस उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा। पुलिस उसे कोर्ट में पेश कर 7 दिन के रिमांड की मांग करेगी। हनीप्रीत से पूछताछ कर रहे अफसरों के मुताबिक सुखदीप कौर और ड्राइवर राकेश ने बताया है कि फरारी के दौरान हनीप्रीत ने उनके सामने ही कई बार आदित्य इंसां और पवन इंसां से बात की थी। हनीप्रीत आदित्य और पवन के 5 ठिकानों का पूरा पता जानती है। इनमें से कुछ ठिकानें राजस्थान में हैं। पुलिस इसी आधार पर उसका रिमांड मांगेगी ताकि आदित्य और पवन के बारे में पता किया जा सके।

सुखदीप कौर और राकेश का खुलासा
सुखदीप कौर और राकेश से संडे की रात को भी आमने-सामने बिठाकर पूछताछ की गई। दोनों ने बताया कि फरारी के दौरान हनीप्रीत जब दिल्ली गई थी तो उसकी आदित्य और पवन से बात हुई थी। दोनों ने बताया था कि वे राजस्थान में हैं। इसके बाद भी हनीप्रीत ने दोनों से कई बार मोबाइल पर कॉन्टैक्ट किया था। हनीप्रीत की गाड़ी के पीछे एक गाड़ी चलती थी। जब भी खाना या अन्य सामान चाहिए होता था तो हनीप्रीत वॉट्सऐप पर मैसेज करती थी और वो सामान दिया जाता था। आदित्य और पवन के अलावा हनीप्रीत चार अन्य लोगों से भी रूटीन में बात करती थी लेकिन ये कौन हैं और किस ठिकाने पर हैं इसका जिक्र नहीं करती थी।
 
हनीप्रीत ने संडे को क्या-क्या खाया
- सुबह 7 बजे रूटीन के मुताबिक चाय दी गई, जो उसने पूरी पी
- सुबह 9.30 बजे उसने खुद चाय मांगी, जो उसे मुहैया कराई गई
- सुबह 11 बजे तीन रोटियां और सब्जी खाई
- दोपहर 3 बजे उसने सिरदर्द बताकर चाय मांगी, उसे दी गई
- शाम 7.30 बजे डिनर दिया गया- 4 रोटी और 1 कटोरी दाल
 
हनीप्रीत ने नहीं रखा करवाचौथ का व्रत: एसआईटी इंचार्ज
हनीप्रीत को पकड़ने और जांच करने वाली एसआईटी के इंचार्ज एसीपी मुकेश मल्होत्रा ने बताया कि हनीप्रीत ने रविवार को रोजाना की तरह ही खाना खाया था। उसने कोई भी व्रत नहीं रखा था। वह रोजाना की तरह ही खाना खा रही है। करवाचौथ को लेकर रविवार को दिन भर मीडिया में खबरें आती रहीं कि उसने व्रत रखा हुआ है।

99 डिग्री बुखार, डॉक्टर ने दी दवा
सोमवार शाम के समय जब हनीप्रीत का मेडिकल करने के लिए डॉक्टरों की टीम पहुंची, तो सामने आया कि उसे बुखार है। उसका टैंपरेचर 99 डिग्री था। उसकी पल्स भी थोड़ी बढ़ी हुई थी। इसके अलावा उसने डॉक्टरों को बताया कि उसे घबराहट भी हो रही है और माइग्रेन का दर्द भी है। उसे डॉक्टर्स ने पूछा कि क्या खाना रेगुलर खा रही हो, तो हनीप्रीत ने हां में जवाब दिया। इसके बाद ही डॉक्टर ने उसे दवा दी।

लोगों में जोश भरने के लिए फैलाई थी झूठी खबर
राकेश ने पुलिस के सामने माना है कि वो डेरा चीफ के काफिले के साथ पंचकूला आया था। यहां वो आदित्य के साथ ही सेक्टर-2/4 के प्वाइंट पर पहुंचा था। यहां आने के बाद जब डेरा समर्थकों से मिला तो उनमें उत्साह की कमी दिखी। जिसके बाद उन लोगों ने दंगे की साजिश पर काम शुरू किया। आपस में बातचीत के बाद लोगों में जोश भरने के लिए झूठी खबर फैलाई गई थी कि डेरा चीफ को बरी कर दिया गया है।

 
Have something to say? Post your comment