Chandigarh

विधायकों की अनदेखी करने वाले अफसरों पर कार्रवाई नहीं चाहती सरकार!

June 05, 2020 11:19 AM

चंडीगढ़। एक तरफ हरियाणा सरकार विधायकों की सुनवाई न करने वाले अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की बात कर रही है तो दूसरी तरफ विधानसभा द्वारा इस मामले में कार्रवाई करने वाली विशेषाधिकार हनन कमेटी का गठन नहीं किया गया है। विधानसभा स्पीकर द्वारा बुधवार की रात विधानसभा की कमेटियों का गठन कर दिया गया है। इसमें विशेषाधिकार हनन कमेटी को छोड़ दिया गया है।
हरियाणा विधानसभा में पहली बार विधायकों को उनकी पसंद की कमेटियों में जगह मिली है। इस बार स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने सभी विधायकों से कमेटियों में शामिल होने के लिए तीन-तीन विकल्प मांगे थे। बुधवार को अलग-अलग 12 कमेटियों के गठन का नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया।


विधानसभा में नहीं बनी विशेषाधिकार हनन कमेटी

पिछली बार की तरह इस बार भी विशेषाधिकार हनन कमेटी का गठन नहीं हो सका है। विधानसभा में इसे सबसे पावरफुल कमेटी माना जाता है। इस कमेटी में शामिल होने के लिए विधायकों में होड़ भी रहती है। इसका बड़ा कारण यह है कि विधायकों की अनदेखी के मामले में इसी कमेटी के पास अधिकारियों को तलब करने के अधिकार हैं। विधायकों तक के मामलों की सुनवाई यही कमेटी करती है।
विधानसभा स्पीकर द्वारा विधायकों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये की गई बैठक में भी विशेषाधिकार हनन कमेटी का मुद्दा उठा था। इसी बैठक में विधायकों ने अधिकारियों पर फोन तक नहीं उठाने के आरोप जड़े थे। सरकार ने लिखित में अधिकारियों को सांसदों व विधायकों की सुनवाई करने के आदेश भी जारी किए। वहीं दूसरी ओर, बुधवार को गठित की गई अलग-अलग 12 कमेटियों में से अधिकांश विधायकों को मनचाही कमेटियों में जगह मिली है।
सभी बारह कमेटियों के चेयरमैन की पहली बैठक स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने 9 जून को बुलाई है। विधानसभा में होने वाली इस बैठक में कमेटियों को प्रभावी बनाने की रणनीति बनेगी। अभी तक कमेटियां रुटीन में बैठकें करती रहीं और हर साल उनकी रिपोर्ट सदन में पेश होती रही। हर विभाग की कमेटी को प्रभावशाली ही नहीं शक्तिशाली भी बनाया जाएगा। अधिकारियों की जवाबदेही तय होगी। कमेटियों की सिफारिश पर काम होगा। हरियाणा विधानसभा के स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता के अनुसार बहुत जल्द विशेषाधिकार हनन कमेटी का गठन कर दिया जाएगा। गठित कमेटियों के चेयरमैन की 9 को बैठक बुलाई है। सभी कमेटियों की वर्किंग में सुधार पर विस्तृत रूप से चर्चा होगी।

 
Have something to say? Post your comment
More Chandigarh News
किशनगढ़ के भगवानपुरा में शराब ठेके के खिलाफ स्थानीय लोगों और युवा कांग्रेस द्वारा धरना प्रदर्शन
मनीष राणा बने करणी सेना चंडीगढ़ के महामंत्री
सांसे हो रही है कम, आओ पेड़ लगाऐ हम
चंडीगढ़ में बिजली विभाग का कारनामा:भुगतान तिथि वाले दिन भेजे जा रहे हैं बिजली बिल
लॉकडाउन में हुई क्षति को डिजिटल मार्केटिंग से पूरा करे उद्यमी:मित्तल
सरकार की शह पर हुआ शराब घोटाला, सुरजेवाला का आरोप
भाजपा के कार्यकर्ताओं ने दी वीर सैनिको को भावभीनी श्रद्धांजलि
भारतीय जनता पार्टी ने चंडीगढ़ प्रशासक वी पी सिंह बदनौर का धन्यवाद किया
प्रॉपटी टैक्स में खामियों क्या लोगो को है धबराने की जरूरत..
जिम संचालकों ने किया चंडीगढ़ की सड़कों पर हंगामा जानिए पूरा मामला