Tuesday, October 24, 2017
Follow us on
BREAKING NEWS
मोदी ने कहा कठोर क़दम के बाद अर्थव्यवस्था पटरी पर लौटी जम्मू-कश्मीर: कुपवाड़ा में सुरक्षाबलों की आतंकियों से मुठभेड़, एक आतंकी ढेर आज गुजरात दौरे पर राहुल गांधी, कांग्रेस ने दिया हार्दिक पटेल और जिग्नेश मेवानी को खुला न्योता हिमाचल चुनाव: कांग्रेस की अंतिम सूची में वीरभद्र के पुत्र का नाम शामिल खुलेगा पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति केनेडी की हत्या का राज? फाइलें सार्वजनिक करेंगे ट्रंप भारतीय वायुसेना को यह ‘हथियार’ देने पर विचार कर रहा है अमेरिका चीन ने दुनियाभर के नेताओं को दी चेतावनी, दलाई लामा से मुलाकात की तो इसे एक गंभीर अपराध समझा जाएगा इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन में कैमरा लगाने के लिए ऐस्ट्रोनॉट्स ने किया स्पेसवॉक
 
 
 
International

अपीलः अमेरिका सुबूत दे तो हम हक्कानी नेटवर्क को खत्म करने को तैयार- पाकिस्तान

October 10, 2017 11:09 PM

इस्लामाबाद,10 अक्तूबर ( न्यूज़ अपडेट इंडिया ) पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कहा है कि यदि अमेरिका इस बात के सुबूत दे कि पाकिस्तान के भीतर आंतकवादी संगठन हक्कानी नेटवर्क के सुरक्षित पनाहगाह हैं तो वे उन्हें नष्ट करने के लिए अमेरिका के साथ संयुक्त अभियान के लिए तैयार हैं।  ख्वाजा आसिफ का यह बयान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा अगस्त में पाकिस्तान पर आतंक और अराजकता के एजेंटो   को  और   पिछले 17 वर्ष में अफगानिस्तान में उन दुश्मनों जिनसे अमेरिकी सेना लड़ाई लड़ रही है    को शरण देने का आरोप लगाए जाने के बाद आया है। हाल ही में अमेरिका में ट्रंप प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात करके लौटे आसिफ ने एक्सप्रेस न्यूज से कहा,   हमने अमेरिकी अधिकारियों को पाकिस्तान में हक्कानी नेटवर्क के सुरक्षित पनाहगाह होने के सुबूतों के साथ आने का न्योता दिया है। उन्होंने कहा, अगर वे लक्षित क्षेत्रों में कोई गतिविधि (हक्कनी की) पाते हैं तो हमारी सेना अमेरिका के साथ मिल कर उन्हें हमेशा के लिए नष्ट कर देगी। विदेश मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने इस माह के शुरूआत में अफगानिस्तान की यात्रा के दौरान राष्ट्रपति अशरफ गनी से मुलाकात करके उन्हें भी इसी तरह की पेशकश की थी। अमेरिकी आलोचना के संबंध में पूछे जाने पर आसिफ ने कहा, अगर ट्रंप प्रशासन ने हम पर और दबाव डाला तो मित्र देश खासतौर पर चीन ,रूस, ईरान और तुर्की हमारे पक्ष में खड़े होंगे। उन्होंने आगे कहा कि अमेरिकी रक्षा और विदेश मंत्री हम पर तानाशाही करते हैं, तो हम उनकी तानाशाही मानने से इनकार कर देंगे़ और अब हम वो करेंगे जो हमारे देश के हित में होगा।  

 
Have something to say? Post your comment
 
More International News
खुलेगा पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति केनेडी की हत्या का राज? फाइलें सार्वजनिक करेंगे ट्रंप
भारतीय वायुसेना को यह ‘हथियार’ देने पर विचार कर रहा है अमेरिका
चीन ने दुनियाभर के नेताओं को दी चेतावनी, दलाई लामा से मुलाकात की तो इसे एक गंभीर अपराध समझा जाएगा
इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन में कैमरा लगाने के लिए ऐस्ट्रोनॉट्स ने किया स्पेसवॉक
रोहिंग्या मुद्दा: अमेरिकी सांसदों की मांग, म्यांमार की सेना को इस तरह सिखाया जाए ‘सबक’
अफगानिस्तान में आत्मघाती हमले में करीब 70 लोगों की मौत
पाक राजदूत ने सुषमा स्वराज से मुलाकात की, कुलभूषण के मुद्दे पर चर्चा की खबर से किया इनकार
जर्मनी: म्यूनिख में चाकू हमले में 4 लोग जख्मी, संदिग्ध गिरफ्तार
यमन में अमेरिका के ताबड़तोड़ हवाई हमले, मार गिराए अल-कायदा के 5 आतंकी
अफगानिस्तान: काबुल की शिया मस्जिद में आत्मघाती हमला, 30 लोगों की मौत