Wednesday, January 17, 2018
Follow us on
 
 
 
Punjab

छात्र से कार का टेल लैंप टूटा तो पुलिस कर्मियों ने तेजधार हथियारों से किए वार

November 30, 2017 11:02 AM

रूपनगर ,29 नवंबर ( न्यूज़ अपडेट इंडिया ) : हद ही हो गई है। पंजाब पुलिस की वर्दी में कार में सवार दो व्यक्तियों ने एक मोटरसाइकिल से कार की टेल लाइट टूटने की सजा इतनी क्रूर दी कि युवक सहम गया है। वीरवार को उसका पेपर है और अब वो बुरी तरह घायल है। तेजधार हथियार से शरीर पर गंभीर घाव ही नहीं बल्कि मानसिक यातनाएं देकर प्रताड़ित किया। युवक गुर¨वदर ¨सह के मुताबिक कुराली में पुल पर चढ़ने से पहले ही उसका मोटरसाइकिल एक आगे जा रही कार की लाइट के साथ जा टकराया। इससे लाइट टूट गई और कार में उतरे वर्दीधारी दो लोगों ने उसे अपनी कार में बिठा लिया और मोटरसाइकिल तथा उसके साथी को वहीं छोड़ दिया। गुर¨वदर माजरी ठेकेदारां (रूपनगर) के अमरीक ¨सह का बेटा है। उसे सिविल अस्पताल रूपनगर की इमरजेंसी में दाखिल करवाया गया।

घायल गुर¨वदर ने बताया कि वह रयात बाहरा कैंपस सहोड़ां में बी.टेक मकेनिकल में तीसरे समेस्टर में पढ़ता है। वीरवार को उसका तीसरे समेस्टर का हिसाब का पेपर है। इसलिए बुधवार को वह कॉलेज में पेपरों की फीस भरवाकर रोल नंबर लेकर अपने दोस्त के साथ वापस अपने मोटरसाइकिल (पीबी12 एए 3231) पर घर को आ रहा था। कुराली बस अड्डे के ओवरब्रिज के पास पहुंचा तो उसके आगे जा रही स्विफ्ट डिजायर कार (पीबी 10 एफआर1037) के चालक ने अचानक ब्रेक लगा दी। इससे उसका मोटरसाइकिल कार से टकरा गया। इसमें कार की टेल लाइट टूट गई तथा उसके मोटरसाइकिल को भी क्षति पहुंची है।

उधर , रूपनगर के एसएसपी राज बचन ¨सह संधू ने कहा कि फिलहाल उनके ध्यान में मामला नहीं है। इस मामले में डीएसपी स्तर के अधिकारी की ड्यूटी लगाई जा रही है। वो मामले में उपयुक्त कार्रवाई करेंगे।

पुलिस मुलाजिम बोले, छे महीने लई मंजे ते पा दऊं

गुर¨वदर ने बताया कि हादसे के बाद स्विफ्ट कार में से दो पुलिस मुलाजिम उतरे। उन्होंने उसे बिना कुछ कहे गाड़ी में बिठा लिया तथा उसके दोस्त को मोटरसाइकिल लाने के लिए कहा। गाड़ी में बिठाने के बाद पुलिस मुलाजिमों ने उससे रूपनगर तक मारपीट की। जब वह किसी तेजधार चीज के साथ उसकी उंगलियों पर कट लगाने लगे तो उसने कहा कि उसका पेपर है। इसके बाद उन मुलाजिमों ने कहा कि पेपर तां तेरा असीं पुआंदें आ तेंनू छे महीने तक पेपर देण जोगा नीं छडना। तैनू छे महीने लई मंजे ते पा दऊं, पेपर ता दूर तूरन नूं वी तरसेंगा। इसके बाद उन्होंने उसके हाथ की दो उंगिलयों तथा घुटने पर तेज हथियार मारकर घायल कर दिया।

पीड़ित गुरविंदर के मुताबिक वे उसका मोबाइल फोन, लाइसेंस तथा एक हजार रुपये भी ले लिए। मोबाइल स्विच ऑफ आ रहा है। वे उससे कोरे कागज पर साइन भी करवाकर ले गए। जब वह रूपनगर बाईपास पर पपराला चौक के पास पहुंचे तो उन्होंने उसे कार से नीचे उतार दिया। उसने बताया कि गाड़ी में रायल स्टैग की दो शराब की पेटियां भी पड़ी थीं। घर वालों को बतायातो तो उन्होंने उसे सिविल अस्पताल रूपनगर में दाखिल करवाया। वहां उसका इलाज चल रहा है।

चाचा बोले- पुलिस मुलाजिमों से बात भी करवाई थी

युवक गुर¨वदर ¨सह के चाचा दर्शन ¨सह ने बताया कि भतीजे गुर¨वदर ¨सह ने उससे मोबाइल पर पुलिस मुलाजिमों से बात भी करवाई थी। लेकिन इसके बावजूद उन्होंने रूपनगर बाईपास पर आकर उसके भतीजे से मारपीट की। उसने मुलाजिमों को भरोसा दिलाया था कि उनकी कार के नुकसान का खर्च लुधियाना में ही उन्हें पहुंचा दिया जाएगा। इसके बावजूद उन्होंने मारपीट की।

 
Have something to say? Post your comment