Monday, December 11, 2017
Follow us on
 
 
 
National

अरुणाचल प्रदेश में शिक्षकों की शर्मनाक हरकत, 88 छात्राओं के कपड़े उतरवाए

November 30, 2017 10:47 AM

इटानगर ,29 नवंबर ( न्यूज़ अपडेट इंडिया ) । अरुणाचल प्रदेश में एक ग‌र्ल्स स्कूल की 88 छात्राओं को तीन शिक्षकों ने सजा के तौर पर कथित रूप से अपने कपड़े उतारने के लिए मजबूर किया। इन छात्राओं ने प्रधानाध्यापक के खिलाफ कथित तौर पर अश्लील शब्द लिखे थे।

पुलिस ने बताया कि पापुम पारे जिला में तनी हप्पा (न्यू सागली) स्थित कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय की छठी और सातवीं कक्षा की 88 छात्राओं को 23 नवंबर को इस अपमानजनक स्थिति का सामना करना पड़ा। हालांकि, यह मामला 27 नवंबर को सामने आया, जब पीडि़ताओं ने ऑल सागली स्टूडेंट्स यूनियन से संपर्क किया। इसने फिर स्थानीय पुलिस के पास एक प्राथमिकी दर्ज कराई।

शिकायत के मुताबिक दो सहायक शिक्षकों और एक जूनियर शिक्षक ने 88 छात्राओं को अन्य छात्राओं के सामने अपने कपड़े उतारने के लिए मजबूर किया। इन छात्राओं के पास से कागज मिला था जिस पर प्रधानाध्यापक और एक छात्रा के खिलाफ अश्लील शब्द लिखे थे। जिले के पुलिस अधीक्षक तुम्मे अमो ने छात्र संगठन (एएसएसयू) द्वारा प्राथमिकी दर्ज कराए जाने की बुधवार को पुष्टि की। उन्होंने बताया कि मामला यहां महिला पुलिस थाना को सौंप दिया गया है। महिला थाने की प्रभारी ने बताया कि पीडि़ताओं और उनके माता-पिता के साथ-साथ शिक्षकों से पूछताछ की जाएगी।

अरुणाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने इस घटना की निंदा की और कहा कि शिक्षकों की ऐसी जघन्य हरकत छात्राओं को प्रभावित कर सकते हैं। इसने एक बयान में कहा कि किसी बच्चे की गरिमा से छेड़छाड़ करना कानून और संविधान के खिलाफ है।

 
Have something to say? Post your comment
 
More National News
राहुल कल निर्विरोध चुने जाएंगे कांग्रेस अध्यक्ष, 16 को होगा अहम एलान
इलाहाबाद हाई कोर्ट में डेढ़ साल से जमानत की अपील लंबित रहने पर सुप्रीम कोर्ट हुआ नाराज
अमित शाह ने देशद्रोहियों की मदद लेने पर कांग्रेस को कोसा
भाजपा के लेन-देन पर कांग्रेस ने उठाए सवाल
त्रिपुरा विधानसभा में छह टीएमसी विधायकों को भाजपा सदस्यों के रूप में मान्यता
केंद्र ने राज्यों को लिखा पत्र, निजी अस्पतालों की मनमानी पर लगाएं लगाम 
इलाहाबाद के खुल्दाबाद और धूमनगंज थाने में अब आईजी और एसएसपी करेंगे कैंप
आयुर्वेद में भारत के मंसूबों पर पानी फेर सकता है जड़ी-बूटियों की किल्लत
यरुशलम पर तीसरे देश के फैसले से हमारे विचार प्रभावित नहीं: भारत
'नीच' बयान पर नपे अय्यर, कांग्रेस ने किया पार्टी से निलंबित